Advertisements

Trust

With trust, even silence is understood. Without trust, every word is misunderstood. 

Trust is the soul of relationships.

Advertisements

सास ने अपने फौजी दामाद को ख़त लिखा

सास ने अपने फौजी दामाद को ख़त
लिखा
“मेरी बेटी को तन्हा छोड़ कर तुम
सरहद में मौज मस्ती कर रहे हो,
शराफत से मेरी बेटी के पास आ
जाओ..
.
कोई भी बहाना बनाकर छुट्टी ले
लो”
.
फौजी दामाद ने सास को
एक हैण्ड ग्रेनेड बम के साथ ख़त
भेजा जिसमे लिखा था
.
“मेरी प्यारी सासू माँ,
.
अगर आप इसकी पिन खीच ले तो
.
मुझे 13 दिन की छुट्टी मिल
जाएगी..”

Letter to Mother-in-Law

Dear Mother-in-Law,

Don’t teach me how to handle my children,

I am living with one of yours & she needs a lot of improvement.

Posted from WordPress for Android

Archives

%d bloggers like this: